Ticker

6/recent/ticker-posts

Labour Day established date festival of 2022

1 मई को क्यों मनाया जाता है मजदूर दिवस, जानें इसका इतिहास और मकसद। Labour day 2022 : all information in hindi step by step ।

आज हम आप से साझा करने जा रहे हैं की Labour day 2022 : की शुरुआत कब हुई और किसने की , और इसे 1 मई को ही क्यों मनाया जाता है , ये सभी जानकारी आप को इस ब्लॉग में विस्तार से मिलने जा रही है।

Labour day 2022 : आखिर कौन है ये labour , तो हम आप को बता दें की , जो सुबह सुबह नहा धो कर चाय नाश्ता करके साथ लंच बॉक्स लेकर घर से ये सोच कर निकल पड़ता है , की चलो कुछ जिम्मेदारियां हैं  जो की नौकरी कर के ही पूरी हो सकती हैं ।

फिर चाहे वो माता पिता की दवा हो , बच्चों के शादी ब्याह अथवा पढ़ाई हो , या फिर पत्नी की कुछ जरूरतें हों , बारी बारी से इन सभी चीजों को पूरा करना है ।।

आप को बता दें की हर वो इंसान चाहे वो फावड़ा चलाने वाला हो ,या फिर कंप्यूटर चलाने वाला हो , काम तो आखिर अपने मालिक के लिए ही करता है , इस हिसाब से वो labour  ही होता है ।।

PM SVANIdhi scheme in hindi

मजदूर दिवस का इतिहास

मजदूर दिवस की शुरुआत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दुनिया के सब से विकसित देश अमेरिका में 1 मई 1886 को हुई थी, इसके लिए किए गए आंदोलन में मजदूरों की तरफ से यह मांगें रखी गई थी की , उनके काम करने का समय 8 घंटे का ही सुनिश्चित किया जाए , क्यों की इस से पहले मजदूर के काम करने का समय 15 घंटे निर्धारित था ।।

जो की एक प्रकार से उनका शोषण किया जा रहा था , इस बात को लेकर पूरे अमेरिका देश में मजदूरों के द्वारा आंदोलन की शुरुआत कर दी गईं थीं , इस बात को लेकर गवर्मेंट ने काफी सख्त एक्शन भी लिया ।।

जिस के परिणाम स्वरूप पुलिस के द्वारा उन आंदोलन कर रहे मजदूरों पर गोली भी चलाई गईं, जिस से को कई सारे महदूरो की जान भी गई और कुछ बुरी तरह से घायल भी हुए ।

गवर्मेंट को ये गलती बहुत ही भारी पड़ी जिस के परिणाम स्वरूप 1889 में वहा की गवर्मेंट ने एक प्रस्ताव पारित कर ही दिया , जिस में इस बात की पारदर्शिता की गई की ,1 मई को अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस( labour day ) के रूप में मनाया जायेगा ।

और इस दिन सभी मजदूरों को छुट्टी भी दी जायेगी , इन्ही सब बातो को देख कर धीरे धीरे भारत के साथ साथ अन्य कई देशों में मजदूर दिवस मनाया जाने लगा , और तभी से 8 घंटे की नौकरी एक बुनियाद भी पड़ी ।।

RBI issued new guideline regarding credit card in Hindi

मजदूर दिवस पर क्या खास होता है?

कार्य करते समय मजदूर के जीवन की सुरच्छा और स्वस्थ के उद्द्येश को लेकर इस संगठन की स्थापना हुई , हाला की इस को लेकर देश में कई सारे आंदोलन भी छेड़े गए ।

मजदूरों के द्वारा किए गए कार्यों की सराहना करना और उनको सम्मान देना , और जो मजदूर अपने हक की लड़ाई लड़ते समय किसी कारण से अपने प्राण गवा बैठे हैं, उनको याद करना , इस लिए इस दिन को मजदूर दिवस के रूप में मजदूरों को छुट्टी देकर उनका सम्मान किया जाता है ।

What is the theme of International Labour Day 2022? ।अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस 2022 का विषय क्या है?

1 मई को हर साल मजदूर दिवस मनाने का एक ही उद्द्येश है , की मालिकों को मजदूरों के द्वारा किए गए कार्यों का सम्मान करना होगा , इस के अलावा उनका जो हक और अधिकार है उसके लिए वो आजादी से अपनी मांगे रख सके ।

कार्य करते समय मजदूर के जीवन की सुरच्छा और स्वस्थ के उद्द्येश को लेकर इस संगठन की स्थापना हुई , हाला की इस को लेकर देश में कई सारे आंदोलन भी छेड़े गए ।

Why Labour Day is celebrated?।मजदूर दिवस क्यों मनाया जाता है?

अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस मजदूर वर्ग के द्वारा मनाया जाता है। मजदूर वर्ग के सदस्यों को मजदूर दिवस मनाने का दिन 1889 में मार्क्सवादी इंटरनेशनल सोशलिस्ट कांग्रेस द्वारा चुना गया था। 1 मई की तारीख इस labour day को मानने के लिए सुनिश्चित की गई थी ।

साथ ही 4 मई 1986 को शिकागो में हेमार्केट में हुए दंगों का स्मरण किया जता है ,जिस में की पुलिस द्वारा मजदूरों पर गोली और बमबारी की गई थी ,जिस में की बहुत सारे मजदूर मारे भी गए थे ।

When was Labour Day first celebrated in India?।भारत में पहली बार मजदूर दिवस कब मनाया गया था?

यह पहली बार भारत देश के तमिलनाडु राज्य में  चेन्नई में 1 मई 1923 को मनाया गया,  इसकी शुरुआत इंडियन लेबर फार्मर पार्टी द्वारा की गई थी। पार्टी के नेता कॉमरेड सिंगरवेलर ने इस अवसर को मनाने के लिए दो दो बार संगठनों के साथ बैठ कर बात करने की व्यवस्था की।।

What is GOOGLE PAY CREDIT CARD In Hindi

Why is May 1st a holiday in India? । भारत में 1 मई की छुट्टी क्यों होती है?

भारत में, मजदूर दिवस का पहला औपचारिक उत्सव 1 मई 1923 को चेन्नई में मनाया गया था जिस को की अब मद्रास के रूप में जाना जाता है , जिसे हिंदुस्तान की लेबर किसान पार्टी द्वारा शुरू किया गया था,  इसे असम, बिहार, गोवा, झारखंड, कर्नाटक, केरल,मणिपुर, तमिलनाडु, त्रिपुरा और पश्चिम बंगाल में भी छुट्टी के रूप में मनाया जाता है।

आशा करता हूं की आप मजदूर दिवस ( labour day) से जुड़ी हुई जानकारी अच्छी लगी होगी , अगर इस विषय पर आप के पास कोई सुझाव हो तो कृपया हमे जरूर दें

।। ध्यन्यवाद ।।

लोगो के द्वारा पूछे गए प्रश्न:

Why is Labour Day celebrated in India? । भारत में मजदूर दिवस क्यों मनाया जाता है?

Labour Day 2022: मजदूर दिवस हर साल 1 मई को मनाया जाता है, मई दिवस मजदूरों और श्रमिकों की उपलब्धियों और योगदान का सम्मान करने के लिए मनाया जाता है। यह दिन पूर्ण रूप से मजदूर वर्ग को समर्पित है और उन्हें अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होने के लिए प्रोत्साहित करता है, इसे मजदूर दिवस या अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में भी जाना जाता है।।

Why is Labour Day important? । मजदूर दिवस क्यों महत्वपूर्ण है?

Labour Day जिसे तस्मानिया में आठ घंटे का दिन और उत्तरी क्षेत्र में मई दिवस के रूप में भी जाना जाता है, आस्ट्रेलिया के लोगों को आठ घंटे का कार्य दिवस दिलाने की याद दिलाता है। यह देश की अर्थव्यवस्था के प्रति श्रमिकों के योगदान को भी मान्यता देता है।

Which countries celebrate Labour Day? । मजदूर दिवस कौन से देश मनाते हैं?

इस दिन का उद्देश्य श्रमिकों के अधिकारों के बारे में लोगों में जागरूकता फैलाना है, और उनकी उपलब्धियों को भी प्रकाशित करना है। यह भारत देश के साथ साथ क्यूबा और चीन जैसे देशों में भी मनाया जाता है।

What we celebrate on 1st May? । 1 मई को हम क्या मनाते हैं?

अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस या मजदूर दिवस ज्यादातर देशों में 1 मई को मनाया जाता है। मजदूर दिवस मजदूरों और मजदूरों के आंदोलन के संघर्षों और बलिदानों की याद में मनाया जाता है। इसे मई दिवस के नाम से भी जाना जाता है , मई दिवस भारत, क्यूबा और चीन सहित 80 से अधिक देशों में मनाया जाता है।

Post a Comment

0 Comments

Ad Code

Responsive Advertisement